Personal tools
आप यहाँ हैं होम (घर) हमारे बारे में उत्पत्ति

उत्पत्ति

होमी भाभा विज्ञान शिक्षा केन्द्र की उत्पत्ति 1960 के दशक के अंत में हुई, जब टाटा मूलभूत अनुसंधान संस्थान के कुछ वैज्ञानिकों ने देश में विज्ञान शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करने में रुचि दिखाई। इन वैज्ञानिकों ने अपनी स्वेच्छा से मुम्बई नगर निगम के स्कूलों तथा मध्य प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में शैक्षिक कार्यक्रम शुरू किए। जैसे-जैसे गतिविधियाँ बढ़ती गईं, एक ऐसी संस्था के सहयोग की ज़रूरत महसूस हुई जो व्यवस्थित रूप से क्षेत्र-परियोजनाओं को पूरा करे, विज्ञान शिक्षा के क्षेत्र में प्रासंगिक बुनियादी अनुसंधान करे और अच्छी शैक्षिक सामग्री प्रकाशित करे।

 संस्थापक

 

होमी भाभा विज्ञान शिक्षा केन्द्र की स्थापना 1974 में टी.आई.एफ.आर. की घटक इकाई के रूप में सर दोराबजी टाटा ट्रस्ट के अनुदान से हुई। पहले सात वर्ष एच.बी.सी.एस.ई. को ट्रस्ट द्वारा वित्तीय सहयोग मिला; कालांतर में परमाणु ऊर्जा विभाग ने इसे टी.आई.एफ.आर के एक भाग के रूप में समर्थन दिया। एच.बी.सी.एस.ई. अब टीआईएफआर. के प्राकृतिक विज्ञान विद्यालय के अधीन एक राष्ट्रीय केन्द्र है जो विज्ञान और गणित शिक्षा में शोध एवं विकास हेतु समर्पित है। 

 

 

 नाना चौक

 

 

नाना चौक म्युनिसिपल स्कूल जहाँ 1992 से पहले एच.बी.सी.एस.ई. स्थित था। 

 

 

 

 

 

 

 

अक्टूबर 1992 में एच.बी.सी.एस.ई. नाना चौक म्युनिसिपल स्कूल की अपनी अस्थायी स्थिति से अणुशक्ति नगर स्थित अपने नए परिसर में स्थानांतरित हुआ। परिसर में अच्छी बुनियादी सुविधाएँ और प्रशासनिक सेवाएँ उपलब्ध हैं।  एच.बी.सी.एस.ई. स्टाफ  भौतिकीय, जीवन तथा व्यावहारिक अनुशासनों का एक व्यापक स्पेक्ट्रम प्रदर्शित करता है।       

 

Document Actions